अमित शाह ने नीतीश कुमार को कहा “पलटू बाबू”, उन लोगों का सम्मान करो जिन्होंने CM बनाया

लखीसराय (बिहार): केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को “पलटू बाबू” कहा और केंद्र द्वारा किए गए कार्यों पर सवाल उठाने के लिए उन पर हमला किया। शाह ने कहा कि नीतीश कुमार को उन लोगों का कुछ सम्मान करना चाहिए जिनके साथ उन्होंने सत्ता साझा की है और जिनकी वजह से वह सीएम बने हैं। अमित शाह गुरुवार को लखीसराय जिले के एक दिवसीय दौरे पर बिहार की राजधानी पटना पहुंचे।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के लखीसराय में एक रैली में कहा – “पलटू बाबू नीतीश कुमार पूछ रहे थे कि (नौ साल में केंद्र द्वारा) क्या काम किया गया। कम से कम उन लोगों का तो कुछ ख्याल रखें जिनके साथ आपने सत्ता साझा की और जिनकी वजह से आप मुख्यमंत्री बने। पीएम मोदी ने बहुत काम किया इन नौ वर्षों में पूरे देश में।

अमेरिका को लेकर क्या कहा –

वैश्विक राजनीति में हासिल किए गए कद के लिए पीएम नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए शाह ने कहा, “ये नौ साल भारत के गौरव के साल रहे हैं। पीएम मोदी जहां भी जाते हैं, चाहे वह अमेरिका हो या इंग्लैंड या फ्रांस या मिस्र – आपको ‘मोदी’ के नारे सुनाई देते हैं।” वह हाल ही में अमेरिका गए थे, कुछ राष्ट्राध्यक्षों ने उनसे मिलने का समय मांगा, कुछ ने उनसे ऑटोग्राफ लिया, जबकि कुछ अन्य ने आशीर्वाद के लिए उनके पैर छुए। दुनिया भर में पीएम मोदी के लिए यह सम्मान सिर्फ उनका या बीजेपी का नहीं है करोड़ों भारतीयों का है।”

न्यूयॉर्क में गूंजे “भारत माता की जय” के नारे, PM मोदी का हुआ जोरदार स्वागत

पाकिस्तान को लेकर क्या कहा –

पाकिस्तान द्वारा भारत में आतंकवाद फ़ैलाने को लेकर शाह ने कहा कि ‘पहले जब पाक प्रेरित आतंकवादी हमला करते थे तो सोनिया-मनमोहन की सरकार जवाबी कार्रवाई नहीं करती थी। दिल्ली में बैठकर ‘मौनी बाबा’ की तरह चुप बनी रहती थी। लेकिन जब पीएम मोदी के कार्यकाल में पुलवामा और उरी में हमले हुए, तो मोदी जी ने 10 दिनों के भीतर पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक करके हिसाब बराबर कर लिया।”
अमित शाह ने कहा, “कांग्रेस, जेडीयू, राजद और ममता बनर्जी कहते थे कि अगर अनुच्छेद 370 हटा दिया गया तो कश्मीर में खून खराबा हो जाएगा। लेकिन मैं राहुल बाबा से कहना चाहता हूं कि किसी ने पत्थर फेंकने की हिम्मत नहीं की।”

रैली को संबोधित करने के बाद उन्होंने ऐतिहासिक अशोक धाम मंदिर में पूजा-अर्चना की और पार्टी के ‘संपर्क से समर्थन’ अभियान के तहत मंदिर के ट्रस्टियों से मुलाकात की। वह राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा के आवास पर भी गये।

बागेश्वर धाम मंदिर में पिस्तौल के साथ मुस्लिम युवक गिरफ्तार – पूरा पढ़ें …

 

Leave a comment