लगातार लम्बे समय तक बैठे रहने से होने वाले पीठ दर्द को कम करने के 7 प्रभावी तरीके –

यदि आप मेरे जैसे व्यक्ति हैं, और लाखों अन्य लोग हैं, तो आप अपना अधिकांश समय कुर्सी पर बैठे हुए बिताते हैं। लंबे समय तक बैठे रहने से स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है, जिसके परिणामस्वरूप अक्सर पुराना दर्द और परेशानी हो सकती है। चाहे आप लंबे समय तक डेस्क पर बिताते हों या आपकी गतिहीन जीवनशैली हो, पीठ दर्द के जोखिम को कम करने के लिए सक्रिय कदम उठाना महत्वपूर्ण है।

शोध से पता चला है कि इससे कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, जैसे पीठ दर्द, ख़राब मुद्रा, रीढ़ की हड्डियों में दर्द ….

लगातार बैठे रहने से होने वाले पीठ दर्द को कम करने के उपाय –

1. बैठने का उचित आसन बनाए रखें –

आपकी पीठ पर तनाव को कम करने के लिए बैठने की सही मुद्रा या आसान को बनाए रखना आवश्यक है। अपनी पीठ सीधी, कंधे शिथिल और पैर फर्श पर सपाट रखकर बैठें। आगे की ओर झुकने या झुकने से बचें, क्योंकि इससे आपकी रीढ़ पर अनावश्यक दबाव पड़ता है।
एक एर्गोनोमिक कुर्सी का उपयोग करने पर विचार करें जो आपकी प्राकृतिक रीढ़ की घुमाओ जैसी होती है और अच्छी मुद्रा को बढ़ावा देती है।

plankswimming

2. नियमित व्यायाम को शामिल करें –

नियमित व्यायाम करने से आपकी पीठ की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और समग्र लचीलेपन में सुधार होता है। अपनी रीढ़ को स्थिर और सहारा देने के लिए ऐसे व्यायामों को शामिल करें जो आपके कोर को लक्षित करते हैं, जैसे कि प्लैंक। इसके अतिरिक्त, कम प्रभाव वाले एरोबिक व्यायाम, जैसे तैराकी या पैदल चलना, रक्त संचार में सुधार कर सकते हैं और पीठ दर्द के जोखिम को कम कर सकते हैं।

3. बार-बार स्ट्रेच करें –

अपनी मांसपेशियों को फैलाने और अपनी पीठ में तनाव दूर करने के लिए हर 30 मिनट में बैठने से थोड़ा ब्रेक लें। बैठे हुए आगे की ओर झुकना, खड़े होकर साइड में झुकना, बिल्ली और गाय की तरह के खिंचाव जैसे सरल स्ट्रेच कठोरता को कम करने और बेहतर रीढ़ की हड्डी के संरेखण को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। याद रखें कि धीरे से स्ट्रेच करें और ऐसी किसी भी गतिविधि से बचें जो असुविधा का कारण बनती हो।

Myths vs Facts: बिस्तर के नीचे प्याज रखने से बुरे सपने आते हैं ?!!?

4. एक स्टैंडिंग डेस्क का इस्तेमाल करें –

थोड़े-थोड़े समय के अंतराल में बैठने और खड़े होने से लगातार बैठने से होने वाले पीठ दर्द को काफी हद तक कम किया जा सकता है। स्टैंडिंग डेस्क में निवेश करने से आप पूरे दिन स्थितियों के बीच स्विच कर सकते हैं, जिससे आपकी रीढ़ पर दबाव से राहत मिलती है। ऐसी ऊंचाई ढूंढें जो आपकी बाहों को डेस्क पर आसानी से आराम करने की अनुमति दे, जिससे आपकी कलाइयों और कोहनियों की तटस्थ स्थिति बनी रहे।

5. सपोर्ट का प्रयोग करें –

लंबे समय तक बैठे रहने पर अपनी पीठ के निचले हिस्से को सहारा देना महत्वपूर्ण है। अपनी रीढ़ की हड्डी के प्राकृतिक मोड़ को बनाए रखने के लिए अपनी पीठ के पीछे तकिया या एक तौलिया का उपयोग करने पर विचार करें। यह तकनीक तनाव को कम करने में मदद करती है और पीठ दर्द के बढ़ने के जोखिम को कम करती है।

6. बैकरेस्ट का प्रयोग करें –

यदि आप अपने बैठने की स्थिति को बार-बार बदलने में असमर्थ हैं, तो बैकरेस्ट का उपयोग अतिरिक्त सहायता प्रदान कर सकता है और बेहतर मुद्रा को बढ़ावा दे सकता है। ऐसा बैकरेस्ट चुनें जो आपकी कुर्सी पर फिट बैठता हो और कमर को पर्याप्त सहारा दे। यह सरल जोड़ आपकी पीठ पर तनाव को कम करने में महत्वपूर्ण अंतर ला सकता है।

7. नियमित ब्रेक लें –

अंत में, सुनिश्चित करें कि आप बैठने से नियमित ब्रेक लें, भले ही केवल कुछ मिनटों के लिए। अपनी पीठ में तनाव दूर करने के लिए खड़े हो जाएं, घूमें और खिंचाव करें।

इन सात रणनीतियों को लागू करके, आप लगातार बैठे रहने से होने वाले पीठ दर्द के जोखिम को काफी कम कर सकते हैं।

अपनी पीठ के स्वास्थ्य को प्राथमिकता देना याद रखें, और याद रखें कि आसन, व्यायाम और ब्रेक में छोटे बदलाव असुविधा को रोकने और स्वस्थ रीढ़ को बनाए रखने में बड़ा अंतर ला सकते हैं!

नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने 28 साल छोटी अवनीत कौर को KISS करने पर प्रतिक्रिया दी, युवा पीढ़ी को ‘नल्ली’ कहा

 

 

Leave a comment